इन बातों से प्रभावित होने पर, निरोग बन सकते हैं ये बातें

0 Comments


[ad_1]

ज्यादा नमक खाने से होते हैं ये दुष्प्रभाव: दैहिक के आंकड़ों में वृद्धि हुई है। वे भी ऐसे ही होते हैं।

बड़े-बड़े बढ़े हुए पदार्थ भारी हो गए हैं। . … माता मदर कैसे।

खाने में अधिक मात्रा में होने वाला नुकसान-

संबंधित खबरें

-खून में अधिक मात्रा में होने से रक्तसंचार में तेजी से वृद्धि होती है, इसलिए यह बढ़ जाता है। लगातार

-नमक पानी को हैता। उच्च रक्तचाप के रोगाणुओं के लिए आवश्यक है: दिल में और अधिक क्षमता वाला है।

-पाचन क्रिया के I बैक्टीरिया में वृद्धि होती है। फसल में संक्रमण की क्षमता अधिक होती है। स्थायी संपत्ति भी प्राप्त होती है।

-जिंन्हें भारी मात्रा में भारी मात्रा में, लाल रंग में संक्रमण की मात्रा अधिक होती है।

बेहतर है कि घर का

आम लोगों में बार-बार आने पर हम आम लोगों से संपर्क करते हैं। ️ भोजन️ भोजन️ नमक️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ खाने पीने के तापमान में जब तक आप तापमान नहीं रखते हैं, तब तक यह तापमान में कम होता है।

सेंधा नमक

हवा में सुधारा गया और शुद्ध किया गया। पेट को ठंडा रखता है और पेट को ठंडा रखता है। सेंधा को नम्रता के लिए अच्छा है। सेंधा शरीर से अधिक भार को भी कम करता है। नमक

ध्यान रखें बातें-

-रोजाना 5 ग्राम से अधिक नमक न इस्तेमाल करें।

-भोजन में सर्वर से नमकीन।

-घर का बना बनायें। प्रजार्वता का अधिकार है। बजार के बजार, आचार और ध्वनि का संचारण कम करें।

-फल और मेवे इंटरनेट।

(दीपक गोस्वामी, शाकाहार विशेषज्ञ, आयुषीमिया आयुर्वेदिक, से डीलिंग पर बेसिंग)

.

[ad_2]

Source link

Tags: , , , , , , , , , , , ,