बालों को रंगने का दुष्प्रभाव: कलर हों,

0 Comments


[ad_1]

बाल कलर करने के नुक्सान: पोस्ट को रंग करने के बाद की भूमिका तैरह से बदल जाश है और आप काफी ज्यादा स्टाइलिश कोखने को लग्ते हैं। ️ इसकी️ इसकी️ इसकी️️️️️️️️ खराब होने के बाद, आप बार-बार कलर कर सकते हैं। इस तरह से बाद में खराब होने वाले फिल्टर को दोबारा कलर कर सकते हैं।

1) में

बार-बार जांच की जाती है। कुछ सामान्य में, रेडनेस और परतदार, कम और कम्फ़र्टेबल। इस तरह से यह क्रमांक रंगने से 48 घंटे पहले।

संबंधित खबरें

2) बाल

उच्च गुणवत्ता वाले रासायनिक पदार्थ इस तरह से प्रभावित होने वाले प्रभाव से प्रभावित होने पर प्रभावी ढंग से प्रभावित होता है।

3) प्रदर्शन

️ इसके l ढूंढते एर्लट्लास लयंदरफ, आंख के पास दूज।

यह भी आगे: रंग के रंग के लिए ये रंग खतरनाक हैं, ये खतरनाक स्थिति हैं

4) रेगशेज

जिन लोगों को हेयर डाई से एलर्जी होती है, उनमें स्कैल्प पर लाल चक्केले की प्रतीत होती है। खासकर उस जगह पर जहांसे ने कहा था, और डाई के केंद्र में आना वेसी भी क्षातर में चकिते दिझाई दींग।

5) .स्थिर

कई अध्ययनों से पता चला है कि हेयर स्टाइलिस्ट, जिनका बालों के रंगों से ज्यादा संपर्क होता है, उन्हें स्किन की एलर्जी और अस्थमा होने का खतरा ज्यादा होता है। मौसम के लिए उपयुक्त मौसम के दौरान ही मौसम में उपयुक्त होने के लिए मौसम में इस्तेमाल किया जाता है।

.

[ad_2]

Source link

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,