हैंगरकेकर की नो बॉल भारत को यूं पड़ी भारी, पाकिस्तान को हुआ फायदा, लोगों को सता रहा चैंपियंस ट्रैफिक वाला डा

0 Comments


[ad_1]

ऐप पर पढ़ें

भारत ए और पाकिस्तान ए रविवार को इमर्जिंग एशिया कप 2023 के फाइनल में शामिल हैं। भारत ने टेस्ला की बॉलिंग बॉलिंग की शुरुआत की, लेकिन उसकी शुरुआत उम्मीदों के मुताबिक नहीं रही। पाकिस्तान ने सबसे पहले 121 रनों की पारी खेली। बल्लेबाज़ सैम अयूब ने 59 और साहिबज़ादान ने 65 रनों की पारी खेली। असल, तेज गेंदबाज राजवर्धन हैंगरकर की एक नो बॉल भारतीय टीम को काफी भारी पड़ी। उन्होंने अयूब को चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर आउट कर दिया था। अयूब ने बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन गेंद हवा में उठ गई। फ्रैंचाइज़ ज्यूरेल ने कैच लैप लिया लेकिन तीसरे अंपायर ने पैर लाइन से बाहर होने के कारण इसे नो बॉल कर दिया। अयूब तब 17 रन पर बैटिंग कर रहे थे और पाकिस्तान का स्कोर 36/0 था।

हैंगरगेकर द्वारा पोस्ट की गई नो बॉल की सोशल मीडिया पर जोरदार चर्चा हो रही है। कई भारतीय पर्यटकों का डर सता रहा है कि कहीं 2017 चैंपियन ट्रॉफी की तरह भारत के हाथ से मैच ना निकल जाए। बता दें कि 2017 चैंपियन ट्रॉफी का फाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया था। भारत को तब रोहित, एमएस धोनी, शिखर हिट, विराट कोहली जैसे दिग्गजों के होने के बावजूद फाइनल में 180 रन से हार का सामना करना पड़ा। पाकिस्तान ने ओपनर फखर जमान की 114 रन की पारी की लाजवाब 338 रन का स्कोर खड़ा किया था। जमान को चौथे ओवर में नो बॉल के जीवनदान से मिला था, जिसमें उन्होंने जमकर कमाई की।

वहीं, हैंगरगेकर ने जब एशिया कप के फाइनल में नो बॉल की इमर्जिंग की तो एक एथलीट ने लिखा, ”पहले फील्डिंग का फैसला लें।” बाएं हाथ के बल्लेबाज को नो बॉल। ज्वालामुखी होटल की ठोस हिस्सेदारी। दूसरे संगीतकार ने लिखा, ”मुझे याद है कि चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में भी ऐसी ही घटना देखी गई थी।” तीसरे संगीतकार ने टिप्पणी की, ”फाइनल में सैम अयूब के बाद फखर जमां बनने जा रही है।” दूसरे संगीतकार ने लिखा, ”चैंपियंस ट्रॉफी 2017 वाली में भी ऐसी ही घटना देखी जा रही है।” ”शैशिल ने जमान को नो बॉल फेंकी थी।”

साइंटिस्ट है कि अयूब को 18वें ओवर में मानव सुथार ने अपने जाल में फंसाया। अयूब ने टाइटल ज्यूरेल को कैच थमाया। अयूब के आउट होने के बाद पाकिस्तान ने नियमित रूप से असंतुलन पर विकेट गंवाए। पाकिस्तान की टीम टीम 187 रन पर लौट आई। इसके बाद तैयब ताहिर ने मार्च निकाला।

.

[ad_2]

Source link

Tags: , , , , , , , , , , , ,